05 जुलाई 2011

मेरे विद्यार्थियों की पहली वेबसाइट



प्रिय ब्लोगरों,

पिछले दिनों मैं मैनपुरी गया था, कुछ विद्यार्थियों को द्रुपल सिखाने| उम्मीद यह की थी कि विद्यार्थी अपने पैरों पर खड़े हो जायेंगे क्यूंकि द्रुपल आज की जरूरत है तथा इसमें रोजगार के अवसर उपलब्ध हैं|

तीन विद्यार्थियों ने द्रुपल सीखने के लिए रजिस्टर कराया था श्रद्धेय जौहरी, रिजवान खान, तथा निखिल कुमार| सच कहूँ तो मुझे तीन भी ज्यादा ही लगे क्यूंकि मैनपुरी के विद्यार्थी यह सोच ही नहीं सकते कि वे मात्र 12 दिन के कोर्स में वेबसाइट बनाना सीख जायेंगे :)

पर मुझे विश्वास था कि वो ऐसा कर पाएंगे, पर मैं उनको यह बोल कर नहीं बताना चाहता था बल्कि चाहता था कि वो ऐसा खुद महसूस करें, इसलिए मैंने कोर्स खत्म करने के बाद उनको किसी रियल प्रोजेक्ट में कार्य करवाना ही उचित समझा|

और उनको एक अध्यापक की वेबसाइट बनाने का मौका दिया, आगे में क्या कहूँ आप खुद ही देख लीजिए जो वेबसाइट उन्होंने तैयार की है उसको आप इस लिंक पर जा कर देख सकते हैं - Raj Kumar Thenua | An Asst. Professor's Website

इस वेबसाइट को बनाने में मैंने इनकी किसी तरह की कोई मदद नहीं की, सिर्फ वेबसाइट की जरूरतों के बारे में चर्चा की तथा बाकी काम इन पर ही छोड दिया, क्या आप मानेंगे कि यह इनकी पहली वेबसाइट है?

यह दो पेज देखना मत भूलिए-

फोटो गैलरी


Event


उम्मीद है आपको यह वेबसाइट पसंद आयेगी, अब आप सभी से सिर्फ एक गुजारिश है, यदि आप भी किसी वेबसाइट को बनाने के बारे में सोच रहे हैं तो एक बार मुझसे राय भी ले लें तथा स्व-रोजगार बढ़ाने में मेरी मदद करें|

यदि आप ठीक ऐसी ही या कुछ कुछ इसके जैसी वेबसाइट अपने लिए बनवाना चाहें तो यह मात्र 5000/- रु. प्रति बर्ष की कीमत पर उपलब्ध है|

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...